आज से कोर्ट में होगी भौतिक सुनवाई,आदेश जारी,करना होंगा गाइडलाईन का पालन


जबलपुर। करीब 10 महीने बाद आज सेमध्यप्रदेश की तमाम जिला कोर्ट और कुटुंब अदालतों में भौतिक सुनवाई होना शुरू हो जाएंगी।इस संबंध में मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने आदेश भी जारी कर दिये है पर सुनवाई के दौरान अधिवक्ताओ और पक्षकारो को गाईड़लाइन का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा।

24 मार्च के बाद से जिला एवं कुटुंब अदालतों में सुनवाई हो गई थी बंद
जैसा की ज्ञात है कि कैराना संक्रमण के चलते मार्च में लॉक डॉउन लगा दिया गया था जिसके चलते जिला न्यायालय एवं कुटुंब अदालतों में कोई सुनवाई नहीं हो रही थी हालांकि वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से अर्जेंट सुनवाई होती रही ।इसी को लेकर 23 नवंबर को अधिवक्ता संघ ने 1 दिन छोड़कर अर्जेंट सुनवाई
न्यायालय में शुरू कर दी ।और सब कुछ ठीक होता देख 18 जनवरी से भौतिक सुनवाई के आदेश भी हाईकोर्ट जबलपुर ने जारी कर दिए है।

अधिवक्ता को बुखार होने पर नही मिलेगा कोर्ट में प्रवेश
क्या रोना गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए जबलपुर हाईकोर्ट ने आदेश दिए हैं कि यदि किसी अधिवक्ता या पक्षकार को बुखार होता है तो उसे कोर्ट में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी साथ ही फोटो कॉपी दुकाने और केंटीन बंद रहेंगी।साथ ही उन्ही अधिवक्ता और पक्षकार को प्रवेश दिया जाए जिनकी सुनवाई होना है ।
सुनवाई के दौरान केवल 10 लोगो को प्रवेश की अनुमति
हाई कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि सुनवाई के दौरान केवल 10 लोगों को ही प्रवेश दिया जाएगा साथ ही 65 वर्ष से अधिक उम्र के अधिवक्ताओं और पक्षकारों को भौतिक उपस्थिति में छूट दी गई है। नियमित सुनवाई के लिए अभी नोटसीट पर अधिवक्ताओ और पक्षकारो के हस्ताक्षर नही लिए जाएंगे।साथ ही सुनवाई के लिये कोर्ट में प्लास्टिक की सीट लगवाई जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *